Advertisement

Saturday, January 20, 2018

author photo
Benifits of Papaya, पपीता आपको कहीं भी आसानी से मिल जाएगा। हममें से अधिकत्तर लोग पपीता खाना बहुत पसंद करते हैं। अगर आपके घर के सामने कुछ जमीन है तो आप इसका पेड़ भी लगा सकते हैं।

पपीता एक ऐसा फल है, जिसे कच्चा होने पर भी इसका इस्तेमाल किया जा सकता है। इसका छिलका बेहद मुलायम होता है जो आसानी से उतर जाता है। इसे काटने पर इसके भीतर से कई छोटे-छोटे काले रंग के बीज होते हैं निकलते है।

Papita(Papaya) Health Benefits in Hindi:


पपीते में कई औषधीय गुण होते हैं, पपीते के फल में Anti-bectarial और Anti-fungal गुण होता है जो स्वास्थ्य के लिहाज से बहुत ही फायदेमंद है।

पपीते को बहुत सारे लोग खाली पेट भी खाना पसंद करते हैं। आप इसे सलाद के रूप में भी खा सकते हैं। इसके पत्ते का उपयोग सामान्य रुप से डेंगू बुखार से लड़ने में मदद करता है।

Papita ke Fyade, Papaya Health Benefits Hindi me

Papaya Khane ke Fyade:


आइए जानते है Papaya के नियमित सेवन से होने वाले कुछ फयादों के बारें में :- 

  • पपीते में उच्च मात्रा में फाइबर मौजूद होता है, साथ ही ये विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट्स से भी भरपूर होता है। अपने इन्हीं गुणों के चलते ये कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने में काफी असरदार है।
  • एक मध्यम आकार के पपीते में 120 कैलोरी होती है। ऐसे में अगर आप वजन घटाने की बात सोच रहे हैं, तो अपनी डाइट में पपीते को जरूर शामिल करें. इसमें मौजूद फाइबर्स वजन घटाने में मददगार होते हैं। 
  • रोग प्रतिरक्षा क्षमता अच्छी हो तो बीमारियां दूर रहती हैं। पपीता आपके शरीर के लिए आवश्यक विटामिन सी की मांग को पूरा करता है। ऐसे में अगर आप हर रोज कुछ मात्रा में पपीता खाते हैं तो आपके बीमार होने की आशंका कम हो जाएगी।
  • पपीते में विटामिन सी तो भरपूर होता ही है साथ ही विटामिन ए भी पर्याप्त मात्रा में होता है। विटामिन ए आंखों की रोशनी बढ़ाने के साथ ही बढ़ती उम्र से जुड़ी कई समस्याओं के समाधान में भी कारगर है। 
  • चेहरे का रंग निखारने के लिए एक कप पपीते का रस व एक कप अमरूद का रस मिलाकर दिन में 2 बार पीना चाहिए। इससे कुछ ही दिनों मे चेहरे पर चमक आ जाती है। 
  • टांसिल बढ़ने तथा गले में दर्द होने पर 1 गिलास गर्म पानी में 1 चम्मच पपीते का दूध मिलाकर गरारा करने से तुंरत आराम हो जाता है।
  • पपीते का रस 1 कप, गाजर, संतरे आधा-आधा कप और तुलसी व लहसुन का रस 2-2 चम्मच। इन सभी को मिलाकर कुछ दिनों तक दिन में 2 बार सेवन करने से उच्च रक्तचाप सामान्य बनता है। उच्च रक्तचाप से पीड़ित रोगियों को प्रतिदिन पपीता सेवन करना चाहिए।
  • पाचन तंत्र को सक्रिय रखने में पपीते के सेवन से पाचन तंत्र भी सक्रिय रहता है। पपीते में कई पाचक एंजाइम्स होते हैं। साथ ही इसमें कई डाइट्री फाइबर्स भी होते हैं जिसकी वजह से पाचन क्रिया सही रहती है. 
  • कच्चा पपीता या पका पपीता खाने से कब्ज की शिकायत दूर होती है। कब्ज से पीड़ित रोगी को प्रतिदिन सुबह पपीते का दूध पीना चाहिए। इससे कब्ज दूर होकर पेट साफ होता है।
  • पीरियड्स के दौरान होने वाले दर्द में जिन महिलाओं को पीरियड्स के दौरान दर्द की शिकायत होती है उन्हें पपीते का सेवन करना चाहिए। पपीते के सेवन से एक ओर जहां पीरियड साइकिल नियमित रहता है वहीं दर्द में भी आराम मिलता है। 
  • मांसपेशियों के दर्द और जोंड़ों के दर्द को दूर करने के लिए पपीते के पत्ते को गर्म करके चिकने भाग की तरफ से बांधना या सिंकाई करना चाहिए। इससे जोड़ों व मांसपेशियों का दर्द ठीक होता है।

आपको हमारी ये Post "Papita Khane Se Jude fayde" कैसी लगी। आप इसे अपने मित्रों और परिवारजनों के साथ जरूर शेयर करें हो सकता उन्हें "Papita Health Benifits in Hindi" की जानकारी न हो।

This post have 0 Comment

Next article Next Post
Previous article Previous Post
loading...

Advertisement