Billboard Ads


Bel Health Benefits in Hindi, बेल का शरबत गर्मी के मौसम में गर्मी से राहत देने के साथ ही कई स्वास्थ्य समस्यों से भी निजात दिलाता है। अगर आप गर्मी के दिनों में रोज बेल का शरबत पीते हैं तो आप गर्मियों में निरोगी बने रहेंगे।

बेल का फल ऊपर से बेहद ही कठोर होता है। इसे हम नारियल की तरह फोड़ कर अंदर पाएं जाने वाले गूदेदार भाग को निकाल कर खाते हैं। ये थोड़ा लस्सेदार होता हैं, कच्चा बेल कड़वा और पका हुआ बेल मीठा होता है।

Bel Health Benefits in hindi, Bel ke fyde

बेल के फल और पत्ते भगवान शिव पर भी चढ़ाये जाते हैं, जो औषधीय गुणों से भरपूर भी हैं। तो चलिए जानते है, Bel के फायदे और नुकसान के बारें में :-

Bel Khane Ke Fyade - Bel Benifits: 

बेल एक ऎसा फल है जो कई रोगों को दूर करनें के काम आता है। बेल के फल का गूदा और बीज पेट साफ करते हैं। बेल से शुगर को कंट्रोल किया जाता है। बेल से कफ व वात को भी खत्म किया जा सकता है।

बेल अतिसार, शुगर, खून की कमी, सफेद पानी की परेशानी और पीरियड्स में होने वाली एक्ट्रा ब्लीडिंग को कम करने में मदद करता है।

Bel Benefits in Hindi:

बेल का मुरब्बा खाने से पित्त व अतिसार में लाभ होता है। पेट के सभी रोगों में बेल का मुरब्बा खाने से लाभ मिलता है। आइए जानते हैं बेल के औषधीय गुणों के बारे में -

  • गर्मियों में बेल का शरबत पीने से लू लगने की संभवाना कम होती है, बाहरी गर्मी के अलावा इससे पेट की गर्मी में भी दूर होती है।
  • पके हुए बेल का शर्बत पुराने आंव की सबसे अच्छी दवा है। इसके सेवन से ये रोग बहुत जल्दी ही दूर हो जाता है। 
  • बेल के गूदे को गुड़ मिलाकर सेवन करने से खूनी दस्त के रोगी का रोग दूर हो जाता है।
  • मिश्री मिले हुए दूध के साथ बेल की गिरी के चूर्ण का सेवन करने से, खून की कमी व शारीरिक दुर्बलता दूर होती है। 
  • बेल का शर्बत तैयार करने में बाद उसमें कुछ बूंदें घी की डालकर अगर रोजाना एक नियमित मात्रा में सेवन किया जाए तो हृदय से संबंधी बीमारियों से बचाव होता है
  • डायरिया की समस्या में होने वाले उल्टी-दस्तों, जी मिचलाने में बेल के गूदे को पानी में मथ कर चीनी मिला कर पीने से लाभ होता है।
  • बेल के पत्तों को पीसकर छान लें, इस 10 मिलीलीटर रस के प्रतिदिन सेवन से मधुमेह में शर्करा आना कम हो जाती हैं।
  • दस ग्राम बेल के पत्तों को 4-5 कालीमिर्च के साथ पीसकर उसमे 10 ग्राम मिश्री मिलकर शरबत बना लें। इसका दिन में तीन बार सेवन करने से पेट दर्द ठीक हो जाता है।

Bel Side Effects in Hindi:

यह संभव हो सकता है कि आपके शरीर को बेल से एलर्जी हों, तो अगर आपने आजतक बेल के फल का सेवन नहीं किया है तो इसे पहले थोड़ा सा खाकर चैक कर लें। 

  • अधिक मात्रा में बेल का सेवन पेट में होने वाली सम्याओं का एक कारण बन सकता है। 
  • हाई ब्लड प्रेशर वाले लोगों को बेल का शरबत नहीं पीना चाहिए। 
  • कार्डियाक पेशेंट हैं तो बिल्कुल भी बेल का शरबत न पिए।  

आपको हमारी Post Bel Se Jude fayde aur Nukshaan कैसी लगी। आप इसे अपने मित्रों और परिवारजनों के साथ जरूर शेयर करें हो सकता उन्हें "Bel Benifits & Side Effects in Hindi" की जानकारी न हो।
article by