Demat Account in Hindi - डीमैट खाते के बारे मे!


डीमैट खाता क्या होता है? -  What is Demat Account Hindi:

अगर आप जानना चाहते हैं कि डीमैट अकाउंट क्या है? डीमैट का उपयोग क्या है और इसे कैसे खोला जाता है? तो अगर आपके मन में भी Demat Account के बारे मे ऐसे सवाल आते हैं तो निश्चिंत हो जाइए क्योंकि आपको आज इस लेख में इन सभी सवालों का जवाब मिल जाएगा।

Dematerialized Account:

Demat Account, किसी भी Bank Account के जैसा ही होता है, इसमें अंतर सिर्फ इतना है कि किसी बैंक अकाउंट में पैसों से जुड़ा लेनदेन होता है। जबकि डीमैट अकाउंट में शेयरों और प्रतिभूतियों का लेनदेन होता है।

जिस प्रकार हमारे बैंक अकाउंट में हमारा पैसा सुरक्षित रहता है, वैसे ही डीमैट अकाउंट में शेयर सुरक्षित रहते हैं।
Demat Account
Information about Demant Account in Hindi
Demat Account भी किसी बैंक खाते की तरह Credit और Debit पर काम करता है। आप अपने डीमैट अकाउंट में शेयर के अलावे सरकारी बॉन्ड्स और Mutual funds भी ख़रीद और बेच सकते है।


यह भी पढ़ें:➧  क्या होता है Systematic Investment Plan (SIP)? जानें।


डीमैट खाते के लिए ज़रूरी पहचान प्रमाण पत्र (Proof of Identity):


अगर आप भी डीमैट अकाउंट खोलना चाहते हैं तो आपके पास नीचे दिए गए ज़रूरी पहचान प्रमाण पत्र की आवश्यकता होगी।

डीमैट खाता खोलने के लिए Identity Proof:
  • पैन कार्ड
  • मतदाता पहचान पत्र
  • पासपोर्ट
  • ड्राइवर लाइसेंस
  • बैंक सत्यापन
  • आईटी रिटर्न
  • बिजली बिल, टेलीफ़ोन बिल(दो महीन से अधिक पुराना नहीं)
  • केंद्र/राज्य सरकार और उसके विभाग/ संवैधानिक/ विनियामक प्राधिकारी/ सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम/ बैंक द्वारा जारी किए गए पहचान पत्र पते के साथ

डीमैट खाता खोलने के लिए पते का प्रमाण पत्र (Proof of Address):


डीमैट अकाउंट खोलने के लिए आपको पहचान प्रमाण पत्र के आलावा आपके पास इन में से एक पते का प्रमाण पत्र की आवश्यकता होगी। 

डीमैट खाता खोलने के लिए Address Proof:
  • आधार कार्ड 
  • पासपोर्ट
  • मतदाता पहचान पत्र
  • ड्राईविंग लाइसेंस
  • बिजली बिल, टेलीफ़ोन बिल(दो महीन से अधिक पुराना नहीं)
  • केंद्र/राज्य सरकार और उसके विभाग/ संवैधानिक/ विनियामक प्राधिकारी/ सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम/ बैंक द्वारा जारी किए गए प्रमाण पत्र पते के साथ। 

कहाँ खोले Demat Account:


SEBI ने डीमैट अकाउंट Open और Manage करने के लिए 2 Depository को मंजूरी दी है:-

  • National Securities Depository Limited (NSDL) और 
  • Central Depository Services Limited (CDSL)

इन दोनों के साथ कई Depository Participant (DP) जुड़े होते हैं। डीपी को इनमें से किसी एक Depository के पास रजिस्टर्ड होना चाहिए। आप अपना डीमैट अकाउंट किसी भी रजिस्टर्ड डीपी के पास ही खुलवाए। Bank, Stock Broker, Financial institutions भी Depository Service दे सकते हैं।

India में बहुत से Stock Broker और Depository Service Provider हैं, जो NSDL और CDSL के पास Registered हैं। यहाँ कुछ Best Depository Participant की List इस प्रकार से हैं:-

  1. 5Paisa
  2. Zerodha
  3. Indiabulls
  4. Sharekhan
  5. Angel Broking
  6. Motilal oswal

यह भी पढ़ें:➧  इन बैंक में 3 in 1 Account खोलें (List of Bank Offering 3-in-1 Demat Accounts)

Demat Account खोलने की फीस:


डिमैट खाता को बिना किसी शेयर के भी खोला जा सकता है और किसी न्यूनतम राशि को बनाए रखने की भी आवश्कता नहीं होती है, आपके खाते में Zero Balance भी हो सकती है।

कई बार यह Charges अलग़ अलग Depository के लिए उसके द्वारा तय किए होते हैं, जो किसी दूसरे Depository Participant से अलग हो सकता हैं।

Demat Account में Nomination:


आप Account Opening Form में Nomination के लिए अपनी पंसद के किसी भी Family Member को Nominee बना सकते हैं। इससे Demat Account Holder की मुत्यु होने के बाद Nominee को आसानी से transfer किया जा सकता है।

आज हमने Demat Account क्या हैं.? इसके बारे में जाना। उम्मीद करता हूँ कि आपको यह Demat Account Ki Hindi में जानकारी पसंद आई होगी। आपको यह जानकारी कैसी लगी.?

अगर आपके पास भी कोई Demat Account से जुडी Information हो तो आप हमें Comment में जरूर बताए। और अपने दोस्तों के साथ Share ज़रूर करे, हो सकता हैं उन्हें भी डीमैट खाते को लेकर जानकारी ना हो। 


loading...

Post a comment

0 Comments